Skip to main content

लखनऊ में विश्व प्रसिद्ध स्मोकी और क्रीमी बटर चिकन का स्वागत हुआ

...
संवाददाता
लखनऊ:गोइला बटर चिकन (जीबीसी) एक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध भारतीय फ़ूड डिलिवरी चेन है, जिसने भारत और विदेश में बड़ी सफलता हासिल की है। वे अब अपनी शाखाएं उत्तर प्रदेश के विभिन्न शहरों में लॉन्च कर रहे हैं, जिसमें लखनऊ, कानपुर शामिल हैं।। जीबीसी ने आगंतुकों को स्मोकी करी, नान बॉम्ब, कबाब, रोल और अन्य स्वादिष्ट व्यंजनों के लिए उत्तर प्रदेश के भोजनप्रेमियों को वाकई लुभाने का लक्ष्य रखा है!

जीबीसी (Goila Butter Chicken) के पीछे एक प्रसिद्ध मास्टर शेफ सारांश गोइला हैं, जिनके बनाए हुए रेसिपीज़ ने भारत और विदेशों में खाद्यप्रेमियों को प्रसन्न किया है। उत्तर प्रदेश के खाद्यप्रेमियों, अब तैयार हो जाइए जीबीसी के स्वादिष्ट खाने का आनंद लेने के लिए!

रेगुलर बटर चिकन से अलग, गोइला बटर चिकन ताजे टमाटर के साथ धीमी आँच पर लंबे समय तक पकाया जाता है। इसमें एक अद्वितीय कोल-स्मोक्ड बटर का उपयोग होता है। इस रेसिपी के कारण, ऑस्ट्रेलिया के जजों ने इसे 'दुनिया के सबसे शानदार बटर चिकनों में से एक' घोषित किया है।

जीबीसी एक बड़े प्रदर्शनी रूप में वेज और नॉन-वेज व्यंजनों का आनंद प्रदान करता है। यहां आपको गोइला बटर पनीर, नान बॉम्ब्स, ढाबा स्टाइल चिली चिकन, हांडी चिकन, पनीर मलाई टिक्का, दाल मखनी, गोइला चिकन कबाब और बहुत कुछ मिलेगा।

जीबीसी के पास थाली के लिए भी एक विस्तार है, जो ग्राहकों को पूरी ताजगी से पके हुए भोजन का आनंद देने के लिए डिज़ाइन की गई है। इसमें मुख्य व्यंजन, दाल मखनी, सब्ज़ी, रूमाली रोटी, चावल, सलाद और अन्य सहायक पदार्थ शामिल होते हैं। गोइला बटर चिकन ने कॉर्पोरेट और व्यक्तिगत ग्राहकों के लिए अनेक विकल्पों के साथ अपने आप को भारत के 80+ स्थानों पर प्रीमियम उत्तर भारतीय/मुग़लई व्यंजनों के रूप में स्थापित किया है।

जब चाहें, आप जोमैटो, स्विगी के माध्यम से या 8588887718 पर कॉल करके उनकी स्मोकी खुशबूदार व्यंजनों का आनंद ले सकते हैं। जहां भी आप चाहें, गोइला बटर चिकन को आसानी से आर्डर करें और इनका आनंद उठाएं।

Comments

Popular posts from this blog

मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ का प्रांतीय द्विवार्षिक अधिवेशन एवं चुनाव सहकारिता भवन में सकुशल संपन्न हुआ

 संवाददाता लखनऊ l मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ, उ०प्र० (सम्बद्ध उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी महासंघ) का  प्रांतीय द्विवार्षिक अधिवेशन एवं चुनाव आज  सहकारिता भवन सभागार , लखनऊ में सकुशल संपन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि  केंद्रीय राज्य मंत्री ( कौशल किशोर) आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार रहे। विशिष्ठ अतिथि के रूप में उ०प्र० राज्य कर्मचारी महासंघ एवं उ०प्र० फेडरेशन ऑफ़ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज एसोसिएशन के प्रांतीय संरक्षक  एस०पी० सिंह,  कमलेश मिश्रा,  नरेन्द्र प्रताप सिंह, उ०प्र० फेडरेशन ऑफ़ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज एसोसिएशन के प्रांतीय संरक्षक  राम विरज रावत, पूर्णिमा सिन्हा उर्फ़ पूनम सिन्हा (फाउंडर ऑफ़ परिषद् ऑफ़ सहकारिता बैंक), प्रांतीय संरक्षक, मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ, उ०प्र० की  प्रभा सिंह उपस्थित रहे। इस अवसर पर उ०प्र० फेडरेशन ऑफ़ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज एसोसिएशन के  दिवाकर सिंह, प्रांतीय अध्यक्ष एवं कनौजिया विनोद बुद्धिराम, कार्यकारी प्रांतीय अध्यक्ष,  चुनाव अधिकारियों की देख-रेख में चुनाव सकुशल संपन्न कराया गया । इस चुनाव में “स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग” क

सरकार ने शीघ्र मांगे नहीं मानी तो पेंशनर स्थगित आंदोलन पुनः चालू करेंगे

 ...   संवाददाता। लखनऊ  ईपीएस-95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति और स्टेफको के संयुक्त तत्वाधान में आज एक सभा आवश्यक वस्तु निगम के गोखले मार्ग स्थित मुख्यालय में प्रांतीय महामंत्री राजशेखर नागर की अध्यक्षता में संपन्न हुई। जिसमें पिछले दिनों दिल्ली के रामलीला मैदान में पेंशनरों की रैली और जंतर मंतर पर अनशन के दौरान श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव द्वारा समिति के राष्ट्रीय नेताओं को बुलाकर वार्ता करने एवं आश्वासन देने के बाद आंदोलन स्थगित रखने की जानकारी दी गई।सभा में वक्ताओं ने कहा कि हमें अब सरकार के कोरे आश्वासनों पर विश्वास नहीं करना चाहिए और अगर सरकार शीघ्र ही हमारी मांगे नहीं मानती है तो स्थगित आंदोलन को पुनः और बड़े स्तर पर जारी करना चाहिए।तभी सरकार कोई ठोस कार्रवाई करेगी।समिति के राष्ट्रीय सचिव राजीव भटनागर ने बताया कि श्रम सचिव के साथ शीघ्र एक महत्वपूर्ण बैठक आयोजित करने का प्रयास हो रहा है जिसमें न्यूनतम पेंशन बढ़ाने के लिए प्रस्ताव प्रस्तुत किया जाएगा।अनेक वरिष्ठ केंद्रीय मंत्रियों द्वारा भी समिति के नेताओं से वार्ता कर उनकी मांगों का समर

पेंशनरों ने मुख्यमंत्री से पेंशन बढ़ाने और बकाया एरियर्स के भुगतान कराने की माँग की

 लखनऊ/संवाददाता   10 जुलाई। ईपीएस-95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति के महामंत्री राज शेखर नागर के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के  जनता  दर्शन  में   ईपीएस-95  पेंशनरों की   न्यूनतम पेंशन बढ़वाने ,फ्री मेडिकल सुविधा दिलवाने की माँग की। इसके अतिरिक्त उत्तर प्रदेश  के अधिकांश निगमों में छठा  वेतनमान का  एरियर का भुगतान नही हुआ है जबकि  पेंशनरों को बहुत कम पेंशन मिलने से आर्थिक बदहाली झेल  रहे हैं।  इसलिए  मुख्यमंत्री से सभी निगमों के  पेंशनरों  को छठे वेतनमान के बकाया एरियर्स का  भुगतान करने के आदेश निर्गत करने की भी माँग की गई। आवश्यक वस्तु निगम में पेंशनरों की  महासमिति की  बैठक मे  निर्णय लिया गया कि  यदि  बकाया एरियर्स का भुगतान शीघ्र नहीं किया गया तो निगम के सेवानिवृत्त कर्मी   अनशन पर बैठेंगे।       महासमिति की बैठक में हबीब खान, राजीव  भटनागर, पी के  श्रीवास्तव, फ्रेडरिक क्रूज,एन सी सक्सेना,राजीव पांडे, सतीश श्रीवास्तव  पीताम्बर भट्ट उपस्थिति रहे।  राजीव भटनागर  मुख्य समन्वयक  उत्तर प्रदेश।