Skip to main content

भीषण बिजली संकट से समूचे प्रदेश में मचा हुआ है हाहाकार- बृजलाल खाबरी

 लखनऊ :।। संवाददाता; 

भीषण बिजली संकट से समूचे प्रदेश में मचा हुआ है हाहाकार 10 रूपये प्रति कुन्तल गन्ने का समर्थन मूल्य बढ़ाया जाना ऊट के मुंह में जीरा- बृजलाल खाबरी
दाल, तेल, खाद्य सामग्री, सब्जियों के दामों में बेतहाशा वृद्धि, महंगाई से आम जनता रही कराह- बृजलाल खाबरी
ध्वस्त कानून व्यवस्था पर केन्द्रीय गृह मंत्री द्वारा योगी सरकार की पीठ थपथपाना और क्लीन चिट देना दुर्भाग्यपूर्ण- बृजलाल खाबरी
भाजपा सरकार की नाकामियों का परिणाम है मणिपुर की हिंसा- बृजलाल खाबरी
उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पूर्व संासद श्री बृजलाल खाबरी जी ने आज कांग्रेस मुख्यालय पर प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए कहा कि पूरे प्रदेश में बिजली संकट से हाहाकार मचा हुआ है, धान की फसल की बुआई, रोपाई बुरी तरह से प्रभावित है, किसान परेशान हैं। गन्ने का समर्थन मूल्य मात्र दस रूपया बढ़ाया जाना ऊट के मुंह में जीरा जैसा है। आम जनता भीषण महंगाई से त्रस्त है, दलहन, तिलहन, एवं सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं, बिचौलिया के पौ बारह हैं, सत्ता के संरक्षण में कालाबाजारी फल फूल रहा है और खामियाजा जनता भुगतने को मजबूर है। खाबरी ने कहा कि जहां प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं बची है वहीं केन्द्रीय गृह मंत्री द्वारा योगी सरकार की पीठ थपथपाना और क्लीन चिट देना दुर्भाग्यपूर्ण है। मुख्यमंत्री का इक़बाल पूरी तरह खत्म हो गया है, प्रदेश की राजधानी सहित पूरे प्रदेश में हत्या, लूट, बलात्कार जैसी जघन्य घटनायें आम हो गई हैं। हाल में ही बाराबंकी के भिलवल में बुर्जुग की घर में घुसकर ईट से कूचकर निर्मम हत्या, सीतापुर में पुलिस द्वारा ही लूटपात जानलेवा हमला, बागपत में पुलिस की पिटाई से साजिद अब्बासी की मौत जैसी घटनायें योगी सरकार में व्याप्त जंगलराज को बयां करती है।उन्होंने कहा कि योगी सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है, भीषण महंगाई से लोगों का जीवन दूभर हो गया है, दाल 150 रुपये के पार, आटा 40 के पार, टमाटर 150 के पार, सरसों का तेल 140 के पार, धनिया 400 के पार, अदरक 300 रुपये के पार, 1140 रुपये प्रति सिलेंडर रसोई गैस की कीमत आज जनता के बस के बाहर हो चुकी है। खाबरी ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री का शहडोल में भाषण कि किसान को वर्ष में 50 हजार से अधिक रुपये सरकार से मिल रहे हैं, उन्हें झूठी गारंटी देने वालों से सावधान होना चाहिए पूरी तरह जनता को गुमराह करने वाला है। प्रधानमंत्री को ऐसे झूठे बयानों से बचना चाहिए। खाबरी ने कहा कि गन्ने का समर्थन मूल्य मात्र 10 रूपया बढ़ाया जाना जले पर नमक छिड़कने जैसा है कम से कम सौ रूपये प्रति कुन्तल बढ़ाया जाना चाहिए था।उन्होंने कहा कि जहां आम जनता हर प्रकार से पीड़ित है वहीं देश में लगभग 9 हजार टेªनों का परिचालन बंद कर दिये जाने से आम नागरिक महंगी यात्रा करने को मजबूर है। भाजपा की यह जन विरोधी नीति का खुला उदाहरण है।कांग्रेस अध्यक्ष  बृजलाल खाबरी ने कहा कि उ0प्र0 सरकार एवं पावर कारपोरेशन द्वारा केवल राजस्व संग्रह के नाम पर उपभोक्ताओं का दोहन किया जा रहा है। समय पर बिजली नहीं मिल पा रही है, गलत बिलिंग की समस्या से आम जनता जूझ रही है। बिजली व्यवस्था में नो ट्रिपिंग जोन पूरी तरह से फेल है। खाबरी ने कहा कि देश आज भाजपा की गलत नीतियों का शिकार हो रहा है, मणिपुर की हिंसा पूरी तरह भाजपा सरकार की नाकामियों का परिणाम है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष श्री राहुल गांधी जी द्वारा वहां जाकर आम नागरिकों से शांति की अपील करने तथा पीड़ितों को सांत्वना देने की भाजपा द्वारा आलोचना करना घोर निंदनीय है। एक प्रश्न के उत्तर में श्री खाबरी ने कहा कि श्री राहुल गांधी जी के लिए संसद की सदस्यता उतनी महत्वपूर्ण नहीं है जितनी देश में संविधान एवं लोकतंत्र की रक्षा, जनता की खुशहाली, देश के ज्वलंत मुद्दों, बेरोजगारी, महंगाई, कानून व्यवस्था का है लेकिन भारतीय जनता पार्टी असल मुद्दों से जनता का ध्यान लगातार भटकाने का काम कर रही है जिसमें वह सफल नहीं होगी आने वाले लोकसभा चुनाव में देश की जनता इन्हें अवश्य सबक सिखायेगी।प्रेस वार्ता में प्रमुख रूप से मीडिया संयोजक अशोक सिंह, प्रदेश प्रवक्ता कृष्णकांत पाण्डेय, सचिन रावत, अजय चन्द्र चौबे, वीरेन्द्र मदान, ओंकारनाथ सिंह आदि उपस्थित रहे

Comments

Popular posts from this blog

मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ का प्रांतीय द्विवार्षिक अधिवेशन एवं चुनाव सहकारिता भवन में सकुशल संपन्न हुआ

 संवाददाता लखनऊ l मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ, उ०प्र० (सम्बद्ध उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी महासंघ) का  प्रांतीय द्विवार्षिक अधिवेशन एवं चुनाव आज  सहकारिता भवन सभागार , लखनऊ में सकुशल संपन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि  केंद्रीय राज्य मंत्री ( कौशल किशोर) आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार रहे। विशिष्ठ अतिथि के रूप में उ०प्र० राज्य कर्मचारी महासंघ एवं उ०प्र० फेडरेशन ऑफ़ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज एसोसिएशन के प्रांतीय संरक्षक  एस०पी० सिंह,  कमलेश मिश्रा,  नरेन्द्र प्रताप सिंह, उ०प्र० फेडरेशन ऑफ़ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज एसोसिएशन के प्रांतीय संरक्षक  राम विरज रावत, पूर्णिमा सिन्हा उर्फ़ पूनम सिन्हा (फाउंडर ऑफ़ परिषद् ऑफ़ सहकारिता बैंक), प्रांतीय संरक्षक, मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ, उ०प्र० की  प्रभा सिंह उपस्थित रहे। इस अवसर पर उ०प्र० फेडरेशन ऑफ़ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज एसोसिएशन के  दिवाकर सिंह, प्रांतीय अध्यक्ष एवं कनौजिया विनोद बुद्धिराम, कार्यकारी प्रांतीय अध्यक्ष,  चुनाव अधिकारियों की देख-रेख में चुनाव सकुशल संपन्न कराया गया । इस चुनाव में “स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग” क

सरकार ने शीघ्र मांगे नहीं मानी तो पेंशनर स्थगित आंदोलन पुनः चालू करेंगे

 ...   संवाददाता। लखनऊ  ईपीएस-95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति और स्टेफको के संयुक्त तत्वाधान में आज एक सभा आवश्यक वस्तु निगम के गोखले मार्ग स्थित मुख्यालय में प्रांतीय महामंत्री राजशेखर नागर की अध्यक्षता में संपन्न हुई। जिसमें पिछले दिनों दिल्ली के रामलीला मैदान में पेंशनरों की रैली और जंतर मंतर पर अनशन के दौरान श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव द्वारा समिति के राष्ट्रीय नेताओं को बुलाकर वार्ता करने एवं आश्वासन देने के बाद आंदोलन स्थगित रखने की जानकारी दी गई।सभा में वक्ताओं ने कहा कि हमें अब सरकार के कोरे आश्वासनों पर विश्वास नहीं करना चाहिए और अगर सरकार शीघ्र ही हमारी मांगे नहीं मानती है तो स्थगित आंदोलन को पुनः और बड़े स्तर पर जारी करना चाहिए।तभी सरकार कोई ठोस कार्रवाई करेगी।समिति के राष्ट्रीय सचिव राजीव भटनागर ने बताया कि श्रम सचिव के साथ शीघ्र एक महत्वपूर्ण बैठक आयोजित करने का प्रयास हो रहा है जिसमें न्यूनतम पेंशन बढ़ाने के लिए प्रस्ताव प्रस्तुत किया जाएगा।अनेक वरिष्ठ केंद्रीय मंत्रियों द्वारा भी समिति के नेताओं से वार्ता कर उनकी मांगों का समर

पेंशनरों ने मुख्यमंत्री से पेंशन बढ़ाने और बकाया एरियर्स के भुगतान कराने की माँग की

 लखनऊ/संवाददाता   10 जुलाई। ईपीएस-95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति के महामंत्री राज शेखर नागर के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के  जनता  दर्शन  में   ईपीएस-95  पेंशनरों की   न्यूनतम पेंशन बढ़वाने ,फ्री मेडिकल सुविधा दिलवाने की माँग की। इसके अतिरिक्त उत्तर प्रदेश  के अधिकांश निगमों में छठा  वेतनमान का  एरियर का भुगतान नही हुआ है जबकि  पेंशनरों को बहुत कम पेंशन मिलने से आर्थिक बदहाली झेल  रहे हैं।  इसलिए  मुख्यमंत्री से सभी निगमों के  पेंशनरों  को छठे वेतनमान के बकाया एरियर्स का  भुगतान करने के आदेश निर्गत करने की भी माँग की गई। आवश्यक वस्तु निगम में पेंशनरों की  महासमिति की  बैठक मे  निर्णय लिया गया कि  यदि  बकाया एरियर्स का भुगतान शीघ्र नहीं किया गया तो निगम के सेवानिवृत्त कर्मी   अनशन पर बैठेंगे।       महासमिति की बैठक में हबीब खान, राजीव  भटनागर, पी के  श्रीवास्तव, फ्रेडरिक क्रूज,एन सी सक्सेना,राजीव पांडे, सतीश श्रीवास्तव  पीताम्बर भट्ट उपस्थिति रहे।  राजीव भटनागर  मुख्य समन्वयक  उत्तर प्रदेश।