Skip to main content

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2024 के लिए ई०वी०एम० एवं वी०वी०पैट की एफ०एल०सी० सम्बंधी कार्यशाला आयोजित

संवाददाता:लखनऊ 

कार्यशाला में 21 जनपदों के जिला निर्वाचन अधिकारियों एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारियों तथा एफएलसी-सुपरवाइजरों द्वारा प्रतिभाग किया गया 

कार्यशाला में ईवीएम एवं वीवीपैट के साथ मतदान एवं मतगणना के समय अपनाई जाने वाली सावधानियों के सम्बन्ध में विस्तृत चर्चा की गई

ईवीएम एवं वीवीपैट से सम्बंधित आयोग के निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय-नवदीप रिणवा

लखनऊ: दिनांक: 24 नवम्बर, 2023


भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार आगामी लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2024 के प्रयोगार्थ ई०वी०एम० एवं वी०वी०पैट की एफ०एल०सी० के संदर्भ में शुक्रवार को गौतमबुद्ध यूनीवर्सिटी, नोएडा, गौतमबुद्धनगर के सभागार में कार्यशाला आयोजित की गयी। इस कार्यशाला में ईसीआईएल मेक मशीनों से आच्छादित 21 जनपदों के जिला निर्वाचन अधिकारियों एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारियों तथा एफएलसी- सुपरवाइजरों द्वारा प्रतिभाग किया गया। इस कार्यशाला में ईवीएम एवं वीवीपैट के संदर्भ में एफ०एल०सी० प्रकिया की जानकारी के साथ ईवीएम से सम्बन्धित विभिन्न्न पहलुओं की भी जानकारी प्रदान की गयी। 

कार्यशाला में आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, मथुरा, अलीगढ़, एटा, हाथरस, कासगंज, बरेली, बदायूं, पीलीभीत, शाहजहांपुर, मेरठ, बागपत, बुलंदशहर, गाजियाबाद, हापुड़, गौतमबुद्धनगर, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर तथा शामली के जिला निर्वाचन अधिकारियों एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारियों तथा एफएलसी-सुपरवाइजरों द्वारा प्रतिभाग किया गया।

प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री नवदीप रिणवा द्वारा कार्यशाला में उपस्थित प्रतिभागियों को सम्बोधित करते हुये बताया कि प्रदेश में आगामी लोक सभा निर्वाचन को निर्विघ्न व निर्विवाद सम्पन्न कराने हेतु ईवीएम एवं वीवीपैट की गुणवत्तापरक की दृष्टि से फर्स्ट लेवल चेकिंग (एफ०एल०सी०) कराये जाने पर विशेष बल दिया गया। उन्होंने कहा कि ईवीएम से सम्बन्धित कार्यों के निस्तारण के सम्बन्ध में आयोग द्वारा निर्धारित प्रक्रिया एवं समय-समय पर निर्गत निर्देशों का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित किये जाने के निर्देश दिये गये हैं।

कार्यशाला में ईवीएम एवं वीवीपैट से सम्बन्धित विभिन्न आयामों जैसे कि एफ०एल०सी०, ईवीएम का प्रथम रैण्डमाइजेशन, प्रशिक्षण एवं जागरूकता, ईवीएम का द्वितीय रैण्डमाइजेशन, मतदान एवं मतगणना के समय अपनाई जाने वाली सावधानियों के सम्बन्ध में विस्तृत चर्चा की गई।

कार्यशाला में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नामित पर्यवेक्षक अवर सचिव श्री ओ०पी० साहनी एवं श्री राकेश कुमार द्वारा प्रतिभागियों के जिज्ञासाओं का निवारण किया गया। कार्यशाला के दौरान उपस्थित जिला निर्वाचन अधिकारी व उप जिला निर्वाचन अधिकारियों एवं एफएलसी सुपरवाइजरों द्वारा एफ०एल०सी० प्रकिया को बारीकी से समझा गया तथा ई०वी०एम० एवं वी०वी०पैट मशीनों पर हैन्ड्स ऑन प्रशिक्षण भी प्राप्त किया गया।

कार्यशाला में अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री कुमार विनीत, उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री अमित सिंह तथा सहायक मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री अरविन्द कुमार पाण्डेय, 21 जनपदों के जिला निर्वाचन अधिकारी, उप जिला निर्वाचन अधिकारी एवं एफएलसी सुपरवाइजर, ईसीआईएल इंजीनियर्स श्री पी0सी0 मण्डल, श्री ज्ञान रंजन नायक, श्री प्रत्युपन्न साहू तथा रिसोर्स पर्सन एनएलएमटी श्री राजेश कुमार सिंह भी उपस्थित थे।

Comments

Popular posts from this blog

मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ का प्रांतीय द्विवार्षिक अधिवेशन एवं चुनाव सहकारिता भवन में सकुशल संपन्न हुआ

 संवाददाता लखनऊ l मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ, उ०प्र० (सम्बद्ध उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी महासंघ) का  प्रांतीय द्विवार्षिक अधिवेशन एवं चुनाव आज  सहकारिता भवन सभागार , लखनऊ में सकुशल संपन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि  केंद्रीय राज्य मंत्री ( कौशल किशोर) आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार रहे। विशिष्ठ अतिथि के रूप में उ०प्र० राज्य कर्मचारी महासंघ एवं उ०प्र० फेडरेशन ऑफ़ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज एसोसिएशन के प्रांतीय संरक्षक  एस०पी० सिंह,  कमलेश मिश्रा,  नरेन्द्र प्रताप सिंह, उ०प्र० फेडरेशन ऑफ़ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज एसोसिएशन के प्रांतीय संरक्षक  राम विरज रावत, पूर्णिमा सिन्हा उर्फ़ पूनम सिन्हा (फाउंडर ऑफ़ परिषद् ऑफ़ सहकारिता बैंक), प्रांतीय संरक्षक, मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ, उ०प्र० की  प्रभा सिंह उपस्थित रहे। इस अवसर पर उ०प्र० फेडरेशन ऑफ़ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज एसोसिएशन के  दिवाकर सिंह, प्रांतीय अध्यक्ष एवं कनौजिया विनोद बुद्धिराम, कार्यकारी प्रांतीय अध्यक्ष,  चुनाव अधिकारियों की देख-रेख में चुनाव सकुशल संपन्न कराया गया । इस चुनाव में “स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग” क

सरकार ने शीघ्र मांगे नहीं मानी तो पेंशनर स्थगित आंदोलन पुनः चालू करेंगे

 ...   संवाददाता। लखनऊ  ईपीएस-95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति और स्टेफको के संयुक्त तत्वाधान में आज एक सभा आवश्यक वस्तु निगम के गोखले मार्ग स्थित मुख्यालय में प्रांतीय महामंत्री राजशेखर नागर की अध्यक्षता में संपन्न हुई। जिसमें पिछले दिनों दिल्ली के रामलीला मैदान में पेंशनरों की रैली और जंतर मंतर पर अनशन के दौरान श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव द्वारा समिति के राष्ट्रीय नेताओं को बुलाकर वार्ता करने एवं आश्वासन देने के बाद आंदोलन स्थगित रखने की जानकारी दी गई।सभा में वक्ताओं ने कहा कि हमें अब सरकार के कोरे आश्वासनों पर विश्वास नहीं करना चाहिए और अगर सरकार शीघ्र ही हमारी मांगे नहीं मानती है तो स्थगित आंदोलन को पुनः और बड़े स्तर पर जारी करना चाहिए।तभी सरकार कोई ठोस कार्रवाई करेगी।समिति के राष्ट्रीय सचिव राजीव भटनागर ने बताया कि श्रम सचिव के साथ शीघ्र एक महत्वपूर्ण बैठक आयोजित करने का प्रयास हो रहा है जिसमें न्यूनतम पेंशन बढ़ाने के लिए प्रस्ताव प्रस्तुत किया जाएगा।अनेक वरिष्ठ केंद्रीय मंत्रियों द्वारा भी समिति के नेताओं से वार्ता कर उनकी मांगों का समर

पेंशनरों ने मुख्यमंत्री से पेंशन बढ़ाने और बकाया एरियर्स के भुगतान कराने की माँग की

 लखनऊ/संवाददाता   10 जुलाई। ईपीएस-95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति के महामंत्री राज शेखर नागर के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के  जनता  दर्शन  में   ईपीएस-95  पेंशनरों की   न्यूनतम पेंशन बढ़वाने ,फ्री मेडिकल सुविधा दिलवाने की माँग की। इसके अतिरिक्त उत्तर प्रदेश  के अधिकांश निगमों में छठा  वेतनमान का  एरियर का भुगतान नही हुआ है जबकि  पेंशनरों को बहुत कम पेंशन मिलने से आर्थिक बदहाली झेल  रहे हैं।  इसलिए  मुख्यमंत्री से सभी निगमों के  पेंशनरों  को छठे वेतनमान के बकाया एरियर्स का  भुगतान करने के आदेश निर्गत करने की भी माँग की गई। आवश्यक वस्तु निगम में पेंशनरों की  महासमिति की  बैठक मे  निर्णय लिया गया कि  यदि  बकाया एरियर्स का भुगतान शीघ्र नहीं किया गया तो निगम के सेवानिवृत्त कर्मी   अनशन पर बैठेंगे।       महासमिति की बैठक में हबीब खान, राजीव  भटनागर, पी के  श्रीवास्तव, फ्रेडरिक क्रूज,एन सी सक्सेना,राजीव पांडे, सतीश श्रीवास्तव  पीताम्बर भट्ट उपस्थिति रहे।  राजीव भटनागर  मुख्य समन्वयक  उत्तर प्रदेश।