Skip to main content

लखनऊ कौशल महोत्सव में 6300 युवाओं को जॉब ऑफर मिले

संवाददाता। लखनऊ 
राष्ट्रीय कौशल विकास निगम एनएसडीसी द्वारा दो दिवसीय लखनऊ कौशल महोत्सव का आयोजन भाजपा वरिष्ठ नेता नीरज सिंह के संयोजन से सफलतापूर्वक संपन्न हुआ जिसमें 6300 युवाओं को जॉब ऑफर दिए गए। जॉब ऑफर प्राप्त कर युवाओं ने खुशी व्यक्त करते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा नेता नीरज सिंह और एनएसडीसी के अधिकारियों और कंपनियों का आभार किया।

समापन अवसर पर हजारों की संख्या में उपस्थित युवाओं को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि केंद्रीय रक्षा मंत्री और लखनऊ के जनप्रिय सांसद राजनाथ सिंह ने लखनऊ संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में रोजगार मेंले के आयोजन के लिए सभी आयोजकों का धन्यवाद व्यक्त करते हुए कहा कि लखनऊ में रोजगार मेंले के आयोजन के लिए मुझे हार्दिक प्रसन्नता हो रही है। लखनऊ में, उसके आसपास के क्षेत्र में और पूरे उत्तर प्रदेश के युवाओं को इस पहल से बड़ी मात्रा में रोजगार हासिल हो रहा है। आज रोजगार मेले में जिन को रोजगार मिला है उन सभी नौजवानों का तथा उनके परिवार जनों को अपनी ओर से हार्दिक बधाई देता हूं और उनके उज्जवल भविष्य की हार्दिक कामना करता हूं। लखनऊ विश्वविद्यालय के कैंपस में रोजगार मेले का आयोजन होना हमारे शिक्षित भारत, कुशल भारत की भावना जिसको प्रधानमंत्री जी ने सारे देश को अवगत कराया है उस भावना के अनुरूप है। पिछले 9/ 10 वर्षों से हम जिस प्रकार से देश के युवाओं की शिक्षा को बल दे रहे हैं अनेक प्रकार की योजनाओं के माध्यम से युवाओं को स्वावलंबी बनाने का कार्य किया जा रहा है आजाद भारत में यह अभूतपूर्व है इससे पहले ऐसा कभी नहीं हुआ। रोजगार मेले का आयोजन हमारी सरकार की द्वारा युवाओं के ऊपर असीमित भरोसा करने की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। पिछली सरकारों में और हमारी सरकारों में बड़ा अंतर है, नजरिया में बड़ा अंतर है साथियों हमारी सरकार रोजगार देने के लिए संकल्पित है । सरकार का नजरिया नौजवानों के भविष्य को जाति धर्म से ऊपर उठकर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। साथियों एक समय था जब अपना घर बार छोड़कर कहीं दूर जाकर रोजगार करना पड़ता था। मैंने उत्तर प्रदेश में वह समय भी देखा है जब रोजगार के नाम पर गांव के गांव खाली हो जाया करते थे, पूरे मोहल्ले खाली हो जाया करते थे। गांव से युवाओं का पलायन यह आम बात हो गई थी । युवाओं की जन्म भूमि तो उत्तर प्रदेश होती थी लेकिन कर्मभूमि कहां कौन सी होगी इसका पता नहीं होता था, काम करने के लिए बाहर जाना कोई गलत बात नहीं है लेकिन काम के अभाव में और काम की तलाश में मजबूरी में बाहर जाना पड़ता था यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण था। कितने युवाओं को मैंने देखा है कि रोजगार की तलाश में निकलते हैं और रोजगार बाहर हासिल हो जाता है तो वह घर वापस नहीं आ पाते हैं। हमारी सरकार ने समस्या को समझा और इस पर काम किया है। भारतीय जनसंघ के समय से किसान और युवा हमारी प्राथमिकता रहे हैं । हमारा नारा हुआ करता था कि "हर हाथ को काम और हर खेत को पानी" यह हमारा नारा हुआ करता था। हम यह प्रयास कर रहे हैं कि जब हमारे युवाओं की जन्म भूमि उत्तर प्रदेश है और उनकी इच्छा हो तो उनके अनुसार कर्म भूमि भी उत्तर प्रदेश हो और उनको यहां पर ही अवसर मिलना चाहिए यह हमारी ख्वाहिश है। युवाओं के इनोवेशन को वेल्थ क्रिएशन में बदलने के लिए हमने स्टार्टअप योजना, स्टैंड अप योजना और मुद्रा योजना जैसी अनेक योजनाएं प्रारंभ की है। बीते 9 वर्षों में मैं जानता नता हूं भारत सरकार ने मुद्रा योजना के तहत लगभग 23 लाख करोड रुपए से ज्यादा देश के नौजवानों को दिए हैं जिससे नौजवानों ने कारोबार शुरू किया, फैक्ट्री खरीदी है और कारोबार का विस्तार किया। इस स्कीम के आधार पर हमने नौजवानों को अपने पैरों पर खड़ा करने का कार्य किया है और इसमें काफी हद तक कामयाबी भी मिली है।
युवा जो कुछ करने के इच्छुक होते हैं लेकिन अपने सपनों की ओर कदम आगे नहीं बढ़ा पाते थे, सरकार ने उनके साकार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने का कार्य कर रही है। देश के नौजवानों के सपने को सरकार करने के लिए इस आजाद भारत में पहली बार हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने असीमित खुला आसमान उपलब्ध कराया है। हमारा देश आज स्टार्टअप का हब बन गया है। देश के नौजवान नौकरी मांगने वाला नहीं बल्कि नौकरी देने वाला नौजवान बन रहा है। यह हम सबके लिए हर्ष का विषय है कोई सरकार हो उसका यह दायित्व होता है कि आपने ऐसा वातावरण तैयार करें कि जिससे उसकी युवा शक्ति को एक समान रोजगार के अवसर प्राप्त हो सके। प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में हमने देश में एक ऐसा वातावरण तैयार किया है सरकार की नीतिया रोजगार की संभावनाओं को केंद्र में रखकर योजनाएं बनाई जा रही हैं। ग्रामीण क्षेत्र का विकास या फिर जीवन से जुड़ी सुविधाओं का विस्तार हो भारत सरकार हर योजना युवाओं के रोजगार के नए अवसर बनाने के लिए कार्य कर रही है। हमारी सरकार जो पूंजी लगती है उसमें कहीं ना कहीं रोजगार का अवसर होता है। इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के अंतर्गत जो हाईवे, एयरपोर्ट नई रेल रूट, नए पुल बन रहे हैं ऐसे आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण हो रहे हैं जिनके माध्यम से देश के लाखों लोगों को रोजगार के अवसर मिल रहे हैं हमने इस दिशा में जिस स्पीड से कार्य किया है वह अभूतपूर्व है। आजादी के बाद 70 सालों में भी ऐसा कभी देखने को नहीं मिला है प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में हमारे नौजवानों के पुरूषार्थ से हमारा भारत विकास की ऐसी गाथा लिख रहा है कि आगे आने वाले भविष्य की रूपरेखा तय करेगा। साथियों जिन रोजगारों मिल रहे हैं उनसे भी मैं कहना चाहूंगा साथियों आपको रोजगार मिला है आपके पास धन कमाने का एक साधन प्राप्त हुआ है, आप मेहनत करेंगे उस मेहनत के कारण आपको वेतन मिलेगा, आप सबका कर्तव्य है कि आप अपने परिवार का तो पालन पोषण करेंगे ही अपने माता-पिता की भी सेवा करें यह भी बात में सभी से कहना चाहता हूं। समाज को जो कुछ भी अच्छा दे सकते हैं वह देने की कोशिश करें यह हमारे आपसे अपेक्षा है। आप यह भी ध्यान रखें कि आप जिस भी कंपनी में कार्य करें जिस फर्म में काम करें आपका उद्देश्य होना चाहिए कि आपके साथ-साथ उनका भी विकास हो और वह भी आगे बढ़े और देश की अर्थव्यवस्था में अधिकतम योगदान कर सके। इस बात को समझना चाहिए वह कंपनी भी आपकी मेहनत के कारण है इसलिए आप अपनी कंपनी पर और दुकान के लाभ के लिए भी पूरी तरह से कार्य करें और तभी आप स्वाभाविक रूप से हम सब आगे बढ़ पाएंगे मैं यह भी कहना चाहूंगा कि रोजगार हासिल करने के बाद भी अलग-अलग स्किल कौशल बराबर अपने हाथों से आजमाते रहे। आपके अंदर सीखने की ललक बनी रहनी चाहिए और आपको सोचना होगा कि मैं क्या नया सीख सकता हूं और नया करूं, इस प्रकार की सोच बनी रहनी चाहिए। मैं चाहता हूं कि 
अगली बार जब मैं आऊं तो आपकी अपनी कंपनी भी इस रोजगार मेले में दूसरों को नए रोजगार देने के लिए शामिल होनी चाहिए। यहां उपस्थित कंपनियां लखनऊ और आसपास के युवा उनके लिए रोल मॉडल बन सकते हैं ऐसा मेरा विश्वास है और मैं कौशल विकास मंत्रालय को बधाई देता हूं कि सारे देश में इस प्रकार के आयोजन किया जा रहे हैं।

उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने कहा कि सबसे पहले आप सब की तरफ से प्रदेश के नौजवानों की तरफ से रक्षा मंत्री जी का स्वागत अभिनंदन और आभार प्रकट करता हूं जब से आदरणीय रक्षा मंत्री जी ने लखनऊ की कमान संभाली है अटल जी के सपनों को पूरा करने के लिए रात दिन कार्य कर रहे हैं हम सब जानते हैं कि लखनऊ के विकास की परिकल्पना जो पूज्य अटल जी ने देखी थी वह आदरणीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह जी कर रहे हैं लखनऊ के लिए और बुजुर्ग को बेहतर आवासीय सुविधा मिले, वर्ल्ड क्लास सिटी के रूप में विकसित हो इसके लिए रक्षा मंत्री जी निरंतर कार्य कर रहे हैं। अभी जो हवाई अड्डे का लोकार्पण हुआ है कुछ लोग बता रहे थे कि जर्मनी का हवाई अड्डे से भी बेहतर हवाई अड्डा बनकर तैयार हुआ है। कुछ दिन पहले गोमती नगर रेलवे स्टेशन का लोकार्पण हुआ और सब लोग का कहना है कि वह अंतरराष्ट्रीय स्तर का रेलवे स्टेशन तैयार हुआ है चारबाग रेलवे स्टेशन का भी आधुनिकरण हुआ है। फ्लाइ ओवरों की भरमार लग गई है लखनऊ के चारों तरफ रिंग रोड तैयार है जिसका लोकार्पण कल होने जा रहा है हमें अच्छी तरह से याद है और जो काम घंटे में होता था उसक दूरी को मिनटों में पूरा किया जाता है। ऐसे सैकड़ो कार्य रक्षा मंत्री जी की अगुवाई में हुए हैं।
रक्षा मंत्री जी की प्रेरणा से निरंतर आयोजित हो रहे रोजगार मेले में भी हजारों की तादाद में युवाओं को रोजगार प्राप्त हो रहे हैं उत्तर प्रदेश के नौजवान अपने मेहनत के बल पर पूरे देश में प्रदेश का नाम रोशन कर रहे हैं और जिनके देश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान है। उत्तर प्रदेश सरकार भी युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए निरंतर कार्यरत है और आगे भी ऐसी सभी योजनाओं में कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करेंगे। लखनऊ नगर निगम भी 10000 से अधिक नौजवानों को नौकरी देने जा रहा है।

भाजपा वरिष्ठ नेता और कौशल महोत्सव रोजगार मेले के संयोजक नीरज सिंह ने कहा कि निश्चित रूप से लखनऊ कौशल महोत्सव हमारे युवाओं को पंख देने का कार्य कर रहा है। पिछली बार की तरह इस बार भी बड़ी संख्या में युवा यहां से रोजगार लेकर जाएंगे और भारत के आर्थिक विकास और सामाजिक समृद्धि में अपनी सहभागिता सुरक्षित करेंगे।मुझे यह हर्ष है कि पिछले वर्ष जब लखनऊ कौशल महोत्सव आपकी प्रेरणा से कराया गया तो 5760 लोगों को रोजगार मिला और इस बार यह बढ़कर 8000 से ज्यादा है।आयी हुई लगभग 97 कंपनी के माध्यम से सभी को जॉब ऑफर लेटर दिया गया है।


रंजीत कुमार, डालीगंज लखनऊ निवासी को ग्रीन कोर्ट टेक्नोलॉजी और संविदा सिंह मोहिबिलापुर निवासी,अखिलेश वर्मा,प्रवीण सिंह को सौभाग्य फाउंडेशन, बालागंज हैदर रहमान, रणजीत सिंह चौहान, अंकिता , स्वप्निल वाजपेई को सेंचुरियन कंपनी द्वारा दिए गए ऑफर लेटर रक्षा मंत्री जी ने प्रदान किये। ऑफर लेटर प्राप्त कर सभी ने खुशी का इजहार किया।


केंद्रीय राज्य मंत्री कौशल किशोर ने कहा कि नीरज सिंह जी निरंतर रोजगार और स्वास्थ्य मेले का आयोजन कर रहे हैं इसके लिए मैं उनका अभिनंदन करता हूं।
मोदी सरकार में महिलाओं के सशक्तिकरण और आर्थिक रूप से सुदृढ़ करने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाएं चलाई जा रही है। भारत के विकसित भारत बनाने के लिए कार्य कर रहे हैं मोदी जी का कहना है कि आप भारत को बनाइये और भारत दुनिया को बनाने का कार्य करेगा। मोदी जी के संकल्पों को पूरा करने के लिए हम सबको मिलकर कार्य करना है। और 400 पर के लक्ष्य के साथ पुनः मोदी सरकार बनानी है।

महानगर अध्यक्ष आनंद द्विवेदी ने कहा कि रोजगार मेला लखनऊ के लिए ऐतिहासिक मेला होता है पिछले वर्ष हजारों युवा बेरोजगारों को रोजगार देने का काम विभिन्न कंपनियों के माध्यम से हुआ था गाड़ी में इस वर्ष भी रोजगार पहले का आयोजन किया गया है और इस बार भी बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार प्राप्त हुआ है।



एनएसडीसी सीईओ वेदमणि तिवारी जी ने कहा कि वाणी रक्षा मंत्री जी की प्रेरणा से लखनऊ में दोबारा लखनऊ कौशल महोत्सव का सफल आयोजन किया जा रहा है जिसमें माननीय रक्षा मंत्री जी के संकल्प की वजह से यहां पर एक बार फिर से सब एकत्रित हुए है और हजारों युवाओं को रोजगार का अवसर मिल रहा है।
माननीय प्रधानमंत्री जी ने जो भारत को विकसित भारत बनाने का संकल्प लिया है यह रोजगार मिला उसी की कड़ी है। प्रधानमंत्री जी ने सारे देश में जो गौरव बढ़ाया है आज दुनिया में भारत में 13 देश के साथ एग्रीमेंट साइन किए हैं और विश्व में भारत के युवाओं के कार्य की मांग बड़ी है। प्रधानमंत्री विश्वकर्म योजना के तहत ढाई लाख लोग कौशल से जुड़ चुके हैं जिको 15000 की टूल किट मिली है और ₹3 लाख तक का लोन मिलेगा। यह मैं विश्वास दिलाता हूं कि भविष्य में भी लखनऊ में इस प्रकार के रोजगार अवसर के लिए कौशल महोत्सव का आयोजन होगा और लोगों को रोजगार अवसर मिलेंगे।

कार्यक्रम में उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक केंद्रीय राज्य मंत्री कौशल किशोर, राज्यसभा सांसद बृजलाल, कार्यक्रम संयोजक नीरज सिंह, महानगर अध्यक्ष आनंद द्विवेदी, महापौर सुषमा खर्कवाल, एमएलसी मुकेश शर्मा,विधायक डॉ नीरज बोरा, योगेश शुक्ला एमएलसी रामचंद्र प्रधान और एनएसडीसी के अधिकारी मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ का प्रांतीय द्विवार्षिक अधिवेशन एवं चुनाव सहकारिता भवन में सकुशल संपन्न हुआ

 संवाददाता लखनऊ l मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ, उ०प्र० (सम्बद्ध उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी महासंघ) का  प्रांतीय द्विवार्षिक अधिवेशन एवं चुनाव आज  सहकारिता भवन सभागार , लखनऊ में सकुशल संपन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि  केंद्रीय राज्य मंत्री ( कौशल किशोर) आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार रहे। विशिष्ठ अतिथि के रूप में उ०प्र० राज्य कर्मचारी महासंघ एवं उ०प्र० फेडरेशन ऑफ़ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज एसोसिएशन के प्रांतीय संरक्षक  एस०पी० सिंह,  कमलेश मिश्रा,  नरेन्द्र प्रताप सिंह, उ०प्र० फेडरेशन ऑफ़ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज एसोसिएशन के प्रांतीय संरक्षक  राम विरज रावत, पूर्णिमा सिन्हा उर्फ़ पूनम सिन्हा (फाउंडर ऑफ़ परिषद् ऑफ़ सहकारिता बैंक), प्रांतीय संरक्षक, मातृ शिशु कल्याण महिला कर्मचारी संघ, उ०प्र० की  प्रभा सिंह उपस्थित रहे। इस अवसर पर उ०प्र० फेडरेशन ऑफ़ मिनिस्ट्रियल सर्विसेज एसोसिएशन के  दिवाकर सिंह, प्रांतीय अध्यक्ष एवं कनौजिया विनोद बुद्धिराम, कार्यकारी प्रांतीय अध्यक्ष,  चुनाव अधिकारियों की देख-रेख में चुनाव सकुशल संपन्न कराया गया । इस चुनाव में “स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग” क

सरकार ने शीघ्र मांगे नहीं मानी तो पेंशनर स्थगित आंदोलन पुनः चालू करेंगे

 ...   संवाददाता। लखनऊ  ईपीएस-95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति और स्टेफको के संयुक्त तत्वाधान में आज एक सभा आवश्यक वस्तु निगम के गोखले मार्ग स्थित मुख्यालय में प्रांतीय महामंत्री राजशेखर नागर की अध्यक्षता में संपन्न हुई। जिसमें पिछले दिनों दिल्ली के रामलीला मैदान में पेंशनरों की रैली और जंतर मंतर पर अनशन के दौरान श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव द्वारा समिति के राष्ट्रीय नेताओं को बुलाकर वार्ता करने एवं आश्वासन देने के बाद आंदोलन स्थगित रखने की जानकारी दी गई।सभा में वक्ताओं ने कहा कि हमें अब सरकार के कोरे आश्वासनों पर विश्वास नहीं करना चाहिए और अगर सरकार शीघ्र ही हमारी मांगे नहीं मानती है तो स्थगित आंदोलन को पुनः और बड़े स्तर पर जारी करना चाहिए।तभी सरकार कोई ठोस कार्रवाई करेगी।समिति के राष्ट्रीय सचिव राजीव भटनागर ने बताया कि श्रम सचिव के साथ शीघ्र एक महत्वपूर्ण बैठक आयोजित करने का प्रयास हो रहा है जिसमें न्यूनतम पेंशन बढ़ाने के लिए प्रस्ताव प्रस्तुत किया जाएगा।अनेक वरिष्ठ केंद्रीय मंत्रियों द्वारा भी समिति के नेताओं से वार्ता कर उनकी मांगों का समर

पेंशनरों ने मुख्यमंत्री से पेंशन बढ़ाने और बकाया एरियर्स के भुगतान कराने की माँग की

 लखनऊ/संवाददाता   10 जुलाई। ईपीएस-95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति के महामंत्री राज शेखर नागर के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के  जनता  दर्शन  में   ईपीएस-95  पेंशनरों की   न्यूनतम पेंशन बढ़वाने ,फ्री मेडिकल सुविधा दिलवाने की माँग की। इसके अतिरिक्त उत्तर प्रदेश  के अधिकांश निगमों में छठा  वेतनमान का  एरियर का भुगतान नही हुआ है जबकि  पेंशनरों को बहुत कम पेंशन मिलने से आर्थिक बदहाली झेल  रहे हैं।  इसलिए  मुख्यमंत्री से सभी निगमों के  पेंशनरों  को छठे वेतनमान के बकाया एरियर्स का  भुगतान करने के आदेश निर्गत करने की भी माँग की गई। आवश्यक वस्तु निगम में पेंशनरों की  महासमिति की  बैठक मे  निर्णय लिया गया कि  यदि  बकाया एरियर्स का भुगतान शीघ्र नहीं किया गया तो निगम के सेवानिवृत्त कर्मी   अनशन पर बैठेंगे।       महासमिति की बैठक में हबीब खान, राजीव  भटनागर, पी के  श्रीवास्तव, फ्रेडरिक क्रूज,एन सी सक्सेना,राजीव पांडे, सतीश श्रीवास्तव  पीताम्बर भट्ट उपस्थिति रहे।  राजीव भटनागर  मुख्य समन्वयक  उत्तर प्रदेश।